शेयर मार्किट क्या होता है इससे पैसे कैसे कमाते है? Share market in hindi

इस पोस्ट आप जानेंगे शेयर मार्किट क्या होता है इससे से पैसे कैसे कमाते है। ”Share market in hindi”  इसमें  पैसे कैसे लगते है डीमेट अकॉउंट किया होता है और इसे कैसे खोला जाता है। यह आर्टिक्ल में इसलिए लिखा रहा हूँ कि आये दिन लोगो के मन में यही सवाल होता है की आखिर  शेयर मार्किट  क्या होता है। ”Share market in hindi”  हम जहा भी जाते है वह हर जगह लोग यही बोलते है कि आज मैनें शेयर मार्किट में इतने पैसे लगाए थे और इससे ज्यादा पैसे कमाए। कई लोग सालो से शेयर मार्किट में पैसे लगाए होते है जब डबल या फिर उससे से 10 गुना ज्यादा बना जाते है तो लोग अपने पैसे को शेयर मार्किट बापिस निकाल लेते है।

share market investment

म्यूच्यूअल फण्ड क्या होते है? What is Mutual Fund in Hindi

शेयर मार्किट क्या होता है इससे पैसे कैसे कमाते है? Share market in hindi

शेयर मार्किट को हम शेेेेयर वाज़ार बोल सकते है क्योंकि इसमें बहुत सारी ब्रोकर कम्पियन्स होती है जिसके जरिए हम शेयर को खरीदते है और बेचते है इसके लिए हमे कोई बेचने बाला या खरीदने बाले को ढूंढ़ने की जरूरत नहीं होती है भारत में प्रमुख तीन एक्सचेंज है

  1. NSE (National Stock Exchange)
  2. BSE (Bombay Stock Exchange)
  3. MCX (Multi Commodity Exchange)

कम्पनीया शेयर कैसे issue करती है


किसी भी कंपनी को शेयर बाज़ार की स्कॉक एक्सचेंज में लिस्ट करबाना होती है उसके लिए एक शेयर का रेट कंपनी अपने आप निर्धारित करती है जो मूल्य कंपनी ने रखा होता है उसे मूल्य पर public को खरीदना होता है  IPO(Initial Public Offering) के रूप में कंपनी सटक एक्सचेंज लिस्ट करबाती है एक बारे IPO पूरा हो जाने के बाद ब्रोकर के द्बारा बेचे और ख़रीदे जाते है

शेयर का price कैसे ज्यादा और कम होता है


किसी बी शेयर का Price IPO के समय फिक्स होता है पर बाद में अगर उसी शेयर का मूल्य इसलिए बढ़ता है जब उस शेयर को public ज्यादा खरीदने लग जाती है तो शेयर का मूल्य बढ़ जाता है और अगर उसी को अगर बहुत public ज्यादा बेचने लगती है तो उस शेयर का मूल्य कम हो जाता है

Nifty 50 index क्या होती है


Nifty 50 नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का एक Index होता है इसमें NSE की टॉप 50 लिमिटेड कम्पियन्स का कैपटलिजेशन के आधार पर किया जाता है अगर Nifty 50 बढ़ता है तो इसका मतलब की उन 50 कम्पनीज ने अच्छा प्रदर्शन किया है और अगर Nifty 50 कम होता है तो उन 50 कम्पनीज ने बुरा प्रदर्शन दिया है

Nifty bank index क्या होता है 


Nifty bank इसके नाम से ही पता चल रहा है की इसमें टॉप 15 Bank का कैप्टलिजेशन के आधार पर किया जाता है इसका मूल्य उसी कम या ज्यादा होता है जिस तरह Nifty 50 का होता है।

डीमेट अकाउंट क्या होता है 


यह अकाउंट बिलकुल उसी उसी तरह होता है जिस तरह हमारा किसी बैंक अकाउंट होता है डीमेट अकाउंट में हम अपने पैसे को fund के रूप में जमा करते है यह बिकुल सिक्योर होता है।

Treading अकाउंट क्या होता है 

यह अकाउंट शेयर बाजार में शेयर खरीदने और बेचने के लिए काम आता है यह अकाउंट आप किसी अच्छे ब्रोकर के खोले और ऑनलाइन सुभिदा से आप शेयर को खरीद और बेच सकते है Upstox मेरा फवरते ब्रोकर है है इसमें एक ही एप्लीकेशन में फण्ड जमा और IPO के लिए अप्लाई क्र सकते जो जो हमे जरूरत होती है  बो Upstox की एप्लीकेशन में मिल जाती है

डीमेट और ट्रेडिंग अकाउंट कैसे खोले 

डीमेट और ट्रेडिंग अकाउंट आप एक ब्रोकर के पास खोल सकते है इसके लिए आपको एक अच्छा ब्रोकर चुनना होता है जैसे की Upstox. आप Upstox में आप मोबाइल और कंप्यूटर में कुछ ही समय में अकाउंट को खोल सकते है और शेयर को खरीदना और बेचना शुरू कर सकते है upstox में अकाउंट ओपन करने के लिए आप यहाँ क्लिक करे click here

upstox में अकाउंट 300rs देने होते यह कभी कभी फ्री में भी खोल देते है।

डीमेट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए जरूरी दस्तबेज
  1. पैन कार्ड।
  2. आधार कार्ड।
  3. बैंक स्टेटमेंट 6 महीने की।
  4. हस्तक्षेर।
  5. लाइव फोटो।

इन सारे दस्ताबेज को देने समय यह ध्यान रहे कि इनमे आपका नाम साफ़ दिखना चाहिए।

आपकी राय

दोस्तों मुझे उम्मीद है आज आपके सारे सवालों के जबाब मिल गए होंगे। अगर फिर भी कुछ रह गए होंगे तो मुझे कमेंट में पूछ सकते है में कोशिश करूंगा आपके सवालों का जबाब देने में। और अगर आपको मेरा आर्टिकल पसंद आया तो इस ”Share market in hindi” आर्टिक्ल को आप अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। और अपने Facebook, Instagram पर भी शेयर  जरूर करे।

Leave a Comment

%d bloggers like this: